पीएस साइबर, नॉर्थ डिस्ट्रिक्ट ने कॉन्वेंट स्कूल के शिक्षक को फर्जी इंस्टाग्राम अकाउंट बनाकर एक लड़की से पीछा करने, नग्नता और यौन अनुग्रह की मांग करने के आरोप में गिरफ्तार किया

Listen to this article

• अभियुक्त को पीड़ित के सभी व्यक्तिगत विवरणों की जानकारी है

• आरोपी उसे पीड़िता से नग्नता भेजने की धमकी दे रहा था और पीड़िता के कुछ व्यक्तिगत विवरणों को सोशल मीडिया पर प्रसारित नहीं करने के लिए यौन अनुग्रह की मांग कर रहा था

• फर्जी इंस्टाग्राम प्रोफाइल बनाने और चलाने के लिए इस्तेमाल किए गए मोबाइल फोन और सिम कार्ड सहित आपत्तिजनक साक्ष्य आरोपी के कब्जे से बरामद किए गए

घटना:
दिल्ली के एक प्रमुख अस्पताल में काम करने वाली पीड़िता ‘सी’ की शिकायत पीएस साइबर नॉर्थ, दिल्ली में प्राप्त हुई थी, जिसमें आरोप लगाया गया था कि इंस्टाग्राम पर xxxx के उपयोगकर्ता नाम से कुछ अज्ञात व्यक्ति ने उसकी इंस्टाग्राम तस्वीर पर एक अश्लील और अश्लील टिप्पणी की। उसने इसे नजरअंदाज कर दिया और उस खाते को ब्लॉक कर दिया। फिर कुछ दिनों के बाद, एक अज्ञात आईडी से उसे इंस्टाग्राम पर संदेश भेजे गए जिसमें कहा गया था कि उसके पास उसके बारे में कुछ बेहद निजी रहस्यों के सबूत हैं और फिर उससे नग्नता और यौन अंतरंगता की मांग की गई। उसने धमकी दी और कहा कि वह इसमें उसके माता-पिता को शामिल करेगा। कुछ दिनों के बाद, उसे अपने घर के दरवाजे पर बेहद अभद्र टिप्पणियों वाला एक पत्र मिला।

शिकायत के आधार पर थाना साइबर नॉर्थ में प्राथमिकी संख्या 04/23 यू/एस 354ए/354डी/506/509 आईपीसी और 67 आईटी अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया गया था और जांच शुरू की गई थी।

जाँच पड़ताल:
इंस्पेक्टर पवन तोमर, एसएचओ/पीएस साइबर नॉर्थ और श्री के मार्गदर्शन में एक टीम। धर्मेंद्र कुमार, एसीपी/ऑप्स में इंस्पेक्टर संदीप श्रीवास्तव, डब्ल्यू/एसआई हंसुल गुप्ता, एएसआई अमित त्यागी और डब्ल्यू/एचसी गीता शामिल थे। जांच के दौरान, उपलब्ध आईपी नंबरों के माध्यम से तकनीकी जांच की गई और जांच के आधार पर पता चला कि कथित इंस्टाग्राम आईडी वाराणसी (यूपी) में बनाई और इस्तेमाल की गई थीं। आगे की जमीनी जांच में आरोपी व्यक्ति सुजीत कुमार निवासी ताड़िया, बनारसी (यूपी) के रूप में पाया गया, जिसने शिकायतकर्ता को इंस्टाग्राम के माध्यम से संदेश भेजे थे। यह भी पाया गया कि आरोपी प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहा था और बुराड़ी में रह रहा था, जहां वह शिकायतकर्ता से केवल एक बार एक सामाजिक समारोह में मिला था। इसके बाद पुलिस टीम ने आरोपी का पता लगाया और उसे 19.04.2023 को गिरफ्तार कर लिया गया।

पूछताछ:
पूछताछ के दौरान आरोपी ने खुलासा किया कि वह 2019 में प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी के लिए दिल्ली में रह रहा था। एक सामाजिक सभा में आरोपी अपने एक दोस्त के जरिए पीड़िता से मिला। इसके बाद एक दिन उन्हें अपने दोस्त के घर पर पीड़िता की मेडिकल रिपोर्ट मिली जो बेहद निजी थी। उसने लड़की को लुभाने की कोशिश की, लेकिन असफल रहा और इसलिए उसने उसे यौन संबंध बनाने की धमकी दी, अन्यथा उसके माता-पिता को एक व्यक्तिगत रिपोर्ट भेजी जाएगी।

वसूली:
• आरोपी के कब्जे से अपराध में शामिल मोबाइल फोन और सिम कार्ड बरामद किया गया।

अभियुक्त का प्रोफाइल:
• सुजीत कुमार निवासी टडिया, वाराणसी, उत्तर प्रदेश, उम्र-27 साल। उनके पास बी.टेक की डिग्री है और वे वाराणसी के एक प्रतिष्ठित कॉन्वेंट स्कूल में गणित पढ़ाते हैं।

Print Friendly, PDF & Email

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *