राजस्व मंत्री कैलाश गहलोत ने कोविड योद्धाओं के परिजनों से की मुलाकात; एक करोड़ रुपये का चेक सौंपा

Listen to this article

*स्वर्गीय सुनील कुमार डीटीसी में कंडक्टर थे, स्वर्गीय रीना राजस्व विभाग में सिविल डिफेंस वॉलंटियर थीं

*अपनी जान की परवाह न करते हुए मानवता और समाज की रक्षा के लिए अपने प्राणों की आहुति देने वाले कोविड योद्धाओं के परिवारों के साथ केजरीवाल सरकार हमेशा खड़ी रहेगी- कैलाश गहलोत

*यह ‘सम्मान राशि’ केजरीवाल सरकार द्वारा इन कोरोना योद्धाओं के बलिदान को श्रद्धांजलि देने का एक तरीका है- कैलाश गहलोत

दिल्ली के राजस्व मंत्री कैलाश गहलोत ने दिवंगत दो कोविड-19 योद्धाओं का सम्मान और आभार व्यक्त करते हुए उनके परिवारों से मुलाकात की और उन्हें 1 करोड़ की आर्थिक सहायता राशी का चेक सौंपा। राजस्व मंत्री आज कुतुब गढ़ स्थित स्वर्गीय सुनील कुमार और उत्तम नगर के भगवती विहार में स्वर्गीय श्रीमती रीना के आवास गयें। स्वर्गीय सुनील कुमार दिल्ली परिवहन निगम में एक कंडक्टर थे जबकि स्वर्गीय श्रीमती रीना राजस्व विभाग में सिविल डिफेंस वॉलेंटियर थीं।

राजस्व मंत्री कैलाश गहलोत ने कोरोना योद्धाओं के परिवार के सदस्यों के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त की और उन्हें केजरीवाल सरकार की ओर से हर संभव मदद का आश्वासन दिया। उन्होंने कहा कि केजरीवाल सरकार हमेशा अपनी जान की परवाह किए बिना मानवता और समाज की रक्षा के लिए अपने प्राणों की आहुति देने वाले कोविड योद्धाओं के परिवारों के साथ खड़ी रहेगी।

कैलाश गहलोत ने यह स्वीकार करते हुए कि कोई भी राशि किसी प्रियजन के नुकसान की भरपाई नहीं कर सकती है, कहा कि यह ‘सम्मान राशि’ केजरीवाल सरकार के लिए इन कोरोना योद्धाओं द्वारा किए गए बलिदान को श्रद्धांजलि देने का एक तरीका है। उन्होंने उन कोरोना योद्धाओं पर गर्व व्यक्त किया, जिन्होंने अपने प्राणों की आहुति देकर लोगों की सेवा की है और उन सभी कोरोना योद्धाओं के प्रति आभार व्यक्त किया, जिन्होंने अपना जीवन दांव पर लगाकर लोगों की सेवा की है।

स्वर्गीय सुनील कुमार दिल्ली परिवहन निगम (डीटीसी) में 47 वर्षीय संविदा कंडक्टर थे और पिछले 11 वर्षों से वहां काम कर रहे थे। दिनांक 22.05.2021 को कोविड ड्यूटी के दौरान संक्रमित होने के बाद उनका निधन हो गया। उनके परिवार में उनकी पत्नी और दो बच्चे हैं, जो दिल्ली के कुतुब गढ़ में रहते हैं।

दूसरी ओर, स्वर्गीय श्रीमती रीना 35 वर्षीय सिविल डिफेंस वॉलंटियर थीं और वो उत्तम नगर के भगवती विहार की रहने वाली थी। ड्यूटी के दौरान संक्रमित होने के समय वो नंद नगरी स्थित एसडीएम कार्यालय में तैनात थीं। 30.05.2020 को उनका निधन हो गया। उनके परिवार में उनके पति, एक बेटा और एक बेटी है।

कैलाश गहलोत ने कहा “स्वर्गीय सुनील और रीना बहुत मेहनती और समर्पित कर्मचारी थे। मैं उनके परिवार का दर्द और दुख समझ सकता हूं।”

मानवता की सेवा करते हुए अपने प्राणों की आहुति देने वाले कोरोना योद्धाओं के परिवारों की आर्थिक सहायता करने की केजरीवाल सरकार की पहल की कई लोगों ने सराहना की है। यह कदम न केवल कोरोना योद्धाओं की निस्वार्थ सेवा को केजरीवाल सरकार द्वारा सम्मान देने का एक तरीका है, बल्कि उनके परिवारों को उनकी जरूरत की घड़ी में समर्थन देने के लिए सरकार की प्रतिबद्धता को भी दर्शाता है।

Print Friendly, PDF & Email

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *