विवादों से घिरी फ़िल्म ” आजमगढ़ ” की रिलीज़ का रास्ता साफ, 28 अप्रैल को OTT पर रिलीज़ हो रही फिल्म

Listen to this article

सत्य घटनाओं पर आधारित फिल्में अक्सर कंट्रोवर्सी का शिकार हो ही जाती हैं। और ऐसे में यदि कंट्रोवर्सी किसी फिल्म की रिलीज को लेकर हो तो वह ख़बर अक्सर लोगों का ध्यान अपनी ओर खींच ही लेती हैं । इसी तरह की कन्टेन्ट से सजी और आतंकवादी घटनाओं पर आधारित फिल्म आजमगढ़ अब रिलीज के लिए तैयार है । यह फ़िल्म आगामी 28 अप्रैल को एक OTT प्लेटफॉर्म मास्क टीवी पर रिलीज होने जा रही है । पंकज त्रिपाठी द्वारा फ़िल्म में एक मौलवी का चरित्र निभाया गया है जो कि युवाओं को बरगलाकर आतंकवाद की तरफ धकेलता है । इसी कैमियो रोल की बदौलत फ़िल्म मेकर्स ने पंकज त्रिपाठी को फ़िल्म रिलीज के समय पोस्टर पर जगह दे दिया जिसे देखकर पंकज त्रिपाठी भड़क उठे और उन्होंने फिल्म के निर्माताओं को धमकाते हुए कहा कि जब मेरा कैरेक्टर मात्र तीन दिन का एक छोटा सा कैमियो था फिर उसको इस तरह से बड़े पोस्टर पर लगाकर प्रचारित करने कि क्या आवश्यकता थी ? पंकज त्रिपाठी उस पोस्टर को देखने के बाद इस तरह से आग बबूला हुए की उन्होंने इस फ़िल्म की रिलीजिंग रोकने या फिर पोस्टर से अपनी तस्वीर हटाने के लिए निर्माताओं के खिलाफ लीगल एक्शन लेने तक कि तैयारी कर लिए थे । लेकिन अब हाल फिलहाल वो विवाद थम गया है और फ़िल्म आजमगढ़ के रिलीज का रास्ता साफ हो गया है और यह फ़िल्म आगामी 28 अप्रैल को मास्क टीवी ओटीटी पर रिलीज होने जा रही है ।


टैग प्रोडक्शन्स के बैनर तले बनी फ़िल्म आजमगढ़ के निर्माता हैं चिरंजीवी भट्ट व अंजू भट्ट । फ़िल्म आजमगढ़ के लेखक व निर्देशक हैं कमलेश मिश्रा। जबकि इस फ़िल्म में संगीत दिया है बापी भट्टाचार्या ने। बिल्कुल ही जीवंत कॉन्सेप्ट आतंकवाद जाएसे रियल घटना पर आधारित फिल्म आजमगढ़ में पंकज त्रिपाठी, अमिता वालिया और अनुज शर्मा जैसे मंझे हुए कलाकारों ने अपने अभिनय से जान फूंक दिया है । फ़िल्म आजमगढ़ एक तरह से दर्शकों के लिए एक शानदार तोहफा साबित होगी , क्योंकि बेहतर कन्टेन्ट के साथ साथ बेहतर अभिनय व संगीत का समावेश एक साथ दर्शकों को इस फ़िल्म में देखने को मिलेगा ।फ़िल्म आजमगढ़ के पीआरओ हैं संजय भूषण पटियाला ।

Print Friendly, PDF & Email

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *