मुख्यमंत्री केजरीवाल के शीश महल के बाहर दिल्ली भाजपा कार्यकर्ता पहुंचे – 45 करोड़ रुपये की लागत से अत्यधिक सौंदर्यीकरण के खिलाफ विरोध प्रदर्शन

Listen to this article

*कोविड के दौर में मुख्यमंत्री आवास की मरम्मत पर 45 करोड़ रूपए उड़ाये जाने से पता चलता है कि अरविंद केजरीवाल कितने संवेदनहीन हैं – कुलजीत सिंह चहल

*दिल्ली के लोगों को यह देखकर दुख होता है कि केजरीवाल ने अपने शीश महल पर उस समय सार्वजनिक धन खर्च किया जब लोग ऑक्सीजन, दवाओं और अस्पताल में बिस्तर की कमी के कारण मर रहे थे – कुलजीत सिंह चहल

*दिल्ली की जनता अरविंद केजरीवाल को उनकी संवेदनहीनता के लिए कभी माफ नहीं करेगी- विजय गोयल

*कुलजीत सिंह चहल के नेतृत्व में सैकड़ों भाजपा कार्यकर्ता जिला अध्यक्ष मनोज त्यागी, विनोद बचेती, लता गुप्ता और कुलदीप सिंह के साथ भारी पुलिस बैरिकेडिंग तोड़ शीश महल पहुंचे

दिल्ली प्रदेश भाजपा के सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने महासचिव श्री कुलजीत सिंह चहल के नेतृत्व में आज मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल के महलनुमा बंगले के चारों ओर लगी भारी पुलिस बैरिकेडिंग को तोड़ दिया और मुख्यमंत्री द्वारा लगभग 45 करोड़ रुपये खर्च करने की असंवेदनशीलता के खिलाफ नारेबाजी की। मुख्य मंत्री ने अपने बंगले को शीश महल में बदलने के लिए नवीनीकरण और सौंदर्यीकरण पर 45 करोड़ खर्च किये हैं।

दिल्ली भाजपा के पूर्व अध्यक्ष श्री विजय गोयल, चार जिलाध्यक्षों श्री मनोज त्यागी, श्री विनोद बचेती, श्री कुलदीप सिंह एवं श्रीमती लता गुप्ता ने कार्यकर्ताओं के विभिन्न समूहों का नेतृत्व करते हुए मुख्यमंत्री के शीश महल के बाहर पुलिस घेरा तोड़ दिया। दिल्ली भाजपा के प्रवक्ता श्री सुभेंधु शेखर अवस्थी, श्री यासिर जिलानी और श्री बृजेश राय और कार्यालय सचिव श्री हुकुम सिंह भी मुख्यमंत्री के शीश महल के बाहर पार्टी कार्यकर्ताओं के प्रदर्शन में शामिल हुए। जहाँ से दिल्ली पुलिस ने मयूर विहार जिलाध्यक्ष श्री विनोद बचेती सहित लगभग 60 कार्यकर्ताओं को पकड़ा और उन्हें बुराड़ी और सिविल लाइंस पुलिस थाने ले जाया गया।

दिल्ली भाजपा के महासचिव श्री कुलजीत सिंह चहल ने मीडियाकर्मियों को संबोधित करते हुए कहा कि कोविड के दौर में मुख्यमंत्री के आवास के जीर्णोद्धार पर 45 करोड़ का खर्च यह दर्शाता है कि अरविंद केजरीवाल कितने संवेदनहीन हैं। दिल्ली के लोगों को यह देखकर दुख होता है कि सीएम केजरीवाल ने अपने शीश महल पर जनता का पैसा उस समय खर्च किया जब लोग ऑक्सीजन, दवाओं और अस्पताल के बेड की कमी के कारण मर रहे थे।

श्री चहल ने कहा कि 45 करोड़ रूपए का केजरीवाल के शीश महल पर खर्च का आंकड़ा पूरा नहीं, हो सकता यह आंकड़ा 100 करोड़ रूपये हो। हम पहले से ही जानते हैं कि इसके अतिरिक्त सीएम हाउस में स्वीमिंग पूल के निर्माण पर 11 करोड़ रुपए खर्च किए गए हैं।

दिल्ली भाजपा के पूर्व अध्यक्ष श्री विजय गोयल ने कहा कि मैं 4 दशकों से अधिक समय से सार्वजनिक जीवन में हूं, लेकिन मैंने कभी किसी मुख्यमंत्री को अपने सरकारी बंगले को महल में तब्दील करने के लिए जनता के पैसे की बर्बादी करते नहीं देखा, जैसा कि केजरीवाल ने अपने शीश महल पर किया है। उन्होंने कहा कि दिल्ली के लोग अरविंद केजरीवाल को उनकी असंवेदनशीलता के लिए कभी माफ नहीं करेंगे और 2024 और 2025 के चुनावों में आम आदमी पार्टी को पूरी तरह से खारिज कर देंगे।

Print Friendly, PDF & Email

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *