महिला पहलवानों की एफआईआर दर्ज करने की बजाय अपने बाहुबली सांसद बृजभूषण सिंह को बचा रही भाजपा- रीना गुप्ता

Listen to this article
  • जंतर-मंतर पर न्याय की मांग को लेकर धरने पर बैठी महिला पहलवानों पर आरोप वापस लेने का दबाव बनाया जा रहा है- रीना गुप्ता
  • मेडल जीतने पर सेल्फी लेने वाले पीएम मोदी भाजपा सांसद पर आरोप लगा रहीं इन महिला खिलाड़ियों की बात क्यों नहीं सुन रहे हैं?- रीना गुप्ता
  • प्रधानमंत्री अपनी मजबूरी बताएं, क्यों टाडा और हत्या के प्रयास का केस दर्ज होने के बाद भी बृजभूषण को रेसलिंग फेडरेशन ऑफ इंडिया का अध्यक्ष बनाया?- रीना गुप्ता
  • जनवरी में खिलाड़ियों की मांग पर बनी कमेटी को चार हफ्ते में रिपोर्ट देनी थी, लेकिन चार महीने बाद भी नहीं आई- रीना गुप्ता
  • बुलडोजर चलाने वाले यूपी के सीएम योगी बृजभूषण से क्यों डर रहे हैं, केंद्रीय खेल मंत्री और स्मृति ईरानी चुप क्यों हैं? – रीना गुप्ता

आम आदमी पार्टी जंतर-मंतर पर धरनारत पहलवालों की लड़ाई को अंजाम तक पहुंचने तक उनका साथ देगी। ‘‘आप’’ की वरिष्ठ नेता रीना गुप्ता ने पीड़ित महिला पहलवानों की शिकायत पर दिल्ली पुलिस द्वारा अभी तक एफआईआर नहीं दर्ज करने पर भाजपा को आड़े हाथ लिया। उन्होंने कहा कि अब तक एफआईआर दर्ज हो जानी चाहिए थी, लेकिन भाजपा अपने बाहुबली सांसद और रेसलिंग फेडरेशन ऑफ इंडिया के अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह को बचा रही है। महिला पहलवानों पर अपने आरोप वापस लेने का दबाव भी बनाया जा रहा है। उन्होंने प्रधानमंत्री से भी पहलवानों को न्याय दिलाने की अपील की। उन्होंने कहा कि जब ये पहलवान ओलंपिक में मेडल जीत कर आते हैं, तब प्रधानमंत्री इन्हें घर बुलाकर सेल्फी लेते हैं। वहीं, आज जब ये खिलाड़ी कुश्ती संघ एवं भाजपा सांसद बृजभूषण पर यौन शोषण का आरोप लगा रहे हैं तो प्रधानमंत्री इनकी बातें नहीं सुन रहे हैं।

आम आदमी पार्टी की वरिष्ठ नेता रीना गुप्ता ने पार्टी मुख्यालय में प्रेसवार्ता कर कहा कि पिछले कुछ दिनों से देश व पूरी दुनिया में तिरंगे का मान बढ़ाने वाले पहलवान आज जंतर-मंतर पर धरना दे रहे हैं। पहलवान साक्षी मालिक, विनेश फोगाट, बजरंग पुनिया को पूरा देश जनता है। इन्होंने अपनी मेहनत व लगन की बदौलत एशियन गेम्स, कॉमनवेल्थ, ओलंपिक जैसे अंतर्राष्ट्रीय खेलों में भारत के लिए मेडल जीते हैं, लेकिन आज ये दूसरी बार सड़क पर धरना देने के लिए मजबूर हैं। उन्होंने कहा कि अरविंद केजरीवाल के निर्देश पर जब मैं पहलवानों का हौसला बढ़ाने के लिए गई, तब दुनिया भर में कुश्ती लड़ने वाली उन बहादुर लड़कियों ने जो बताया, वो सुनकर मेरी आंखों में आंसू आ गए। आज यह जरूरी है कि इनके साथ पूरा देश खड़ा हो।

वरिष्ठ नेता रीना गुप्ता ने कहा कि एक हजार से ज्यादा पहलवानों ने रेसलिंग फेडरेसन ऑफ इंडिया के अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह पर बहुत ही संगीन आरोप लगाए हैं। जिसमें यौन शोषण, तानाशाही, मनमानी, अपशब्दों का प्रयोग, मानसिक प्रताड़ना, विरोध करने पर धमकाने जैसे आरोप हैं। उन्होंने कहा कि देश के लिए ओलंपिक गेम्स में मेडल लाने वाले खिलाड़ी का शोषण करने की हिम्मत बृजभूषण सिंह को कहां से मिली? उत्तर प्रदेश में कुलदीप सेंगर, हरियाणा के मंत्री संदीप सिंह या कठुआ में बलात्कारियो के समर्थन मे रैली निकलने वाले नेता हो, दुनिया की सबसे बड़ी पार्टी भाजपा में यौन शोषण, बलात्कार करने वालों की कोई कमी नहीं है। अब देश भर में यह संदेश साफ हो गया है कि ‘बेटी बचाओं बेटी पढ़ाओ’ की जगह भाजपा के गुंडे मवाली बलात्कारियो से बेटी बचाओ।

उन्होंने कहा कि बृजभूषण सिंह भाजपा के बाहुबली सांसद हैं। वो डॉन दाउद इब्राहिम को मदद करने के मामले में भी जेल जा चुके हैं। इसके अलावा भी कई केस हैं और उन पर टाडा लगा हुआ है। उन्होंने पूछा कि प्रधानमंत्री की क्या मजबूरी थी कि उन्होंने बृजभूषण सिंह जैसे आपराधिक प्रवृत्ति के व्यक्ति को रेसलिंग फेडरसंन ऑफ इंडिया का अध्यक्ष बना दिया और जब इतनी बड़ी संख्या में महिला पहलवान उन पर यौन शोषण का आरोप लगा रही हैं तो दिल्ली पुलिस एफआईआर नहीं कर रही है।

‘‘आप’’ की वरिष्ठ नेता रीना गुप्ता ने कहा कि पहलवानों के मेडल जीतने पर सेल्फी लेने की होड़ रहती है। प्रधानमंत्री पहलवानों को अपने घर बुलाकर महिला पहलवानों को अपनी बेटी व परिवार का सदस्य बताते हैं और आज वो अपने इस परिवार को धोखा दे रहे हैं। इस तरह धोखा देना प्रधानमंत्री के लिए कोई नई बात नहीं है। क्योंकि वे पहले भी अपने परिवार और देश को धोखा दे चुके हैं। उन्होंने कहा कि महिला पहलवानों की शिकायत पर एफआईआर करने की बजाय भाजपा, केंद्र सरकार और दिल्ली पुलिस बाहुबली सांसद को बचाने मे लगी हुई है। सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई के दौरान केंद्र सरकार के वकील ने कोर्ट को गुमराह करते हुए कहा कि इस मामले में एफआईआर से पहले जांच की जरूरत है। जबकि सुप्रीम कोर्ट की संवैधानिक बेंच ने 2013 मे ललिता कुमारी बनाम उत्तर प्रदेश सरकार के केस में फैसला सुनते हुए एफआईआर की गाइड लाइन बनाई थी। उसमें सर्वाेच्च न्यायालय ने साफ कहा है कि सदिंग्ध अपराध के मामले में कोई प्राथमिक जांच की आवश्यकता नहीं है। पुलिस को बिना किसी देरी तत्काल एफआईआर दर्ज करनी होगी। केंद्र सरकार की दिल्ली पुलिस बाहुबली अपराधी भाजपा सांसद को बचाने में एडी चोटी का जोर लगा रही है। जिसके गैंगस्टर से संबंध रहे है, उसे पूरी भाजपा और केंद्र की दिल्ली पुलिस कैरेक्टर सर्टिफिकेट देने में लगी है।

रीना गुप्ता ने कहा कि जनवरी में पहलवानों को धरने पर बैठने के बाद एक कमिटी बनाई गई। कमिटी को चार सप्ताह में रिपोर्ट देनी थी, लेकिन अभी तक रिपोर्ट नहीं आई। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री बात-बात पर बुलडोजर चलवा देते हैं, लेकिन इस बाहुबली पर बुलडोजर चलाने की हिम्मत नहीं हो रही है। केंद्रीय खेल मंत्री खिलाड़ियों के पक्ष मे खड़े नहीं हो रहे है। महिलाओ के मुद्दों पर भाजपा की मंत्री स्मृति इरानी के मुह मे दही जम गई है। इससे साफ पता चलता है कि भाजपा देश का मान बढ़ाने वाली खिलाड़ियों के खिलाफ साजिश कर रही है। उन्होंने कहा कि अगर इन पहलवानों को न्याय नहीं मिल तो कोई भी मां-बाप अपनी बेटी को खेल में या घर से निकलने नहीं देंगे। दिल्ली महिला आयोग कि अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने भी इस मामले में दिल्ली पुलिस को नोटिस जारी किया है। आम आदमी पार्टी इस लड़ाई में पहलवानों के साथ खड़ी है।

Print Friendly, PDF & Email

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *