प्रधानमंत्री सुनें महिला खिलाड़ियों के ‘मन की बात’ और लें कुश्ती महासंघ के अध्यक्ष से इस्तीफा- प्रियंका कक्कड़

Listen to this article
  • प्रधानमंत्री पर अब नहीं हो रहा भरोसा, इसलिए बृजभूषण सिंह की गिरफ्तारी तक आंदोलन जारी रखने पर अड़े खिलाड़ी- प्रियंका कक्कड़
  • प्रधानमंत्री बलात्कारियों और यौन शोषण करने वाले अपराधियों के आगे ढाल बन कर खड़ा होना बंद करें- प्रियंका कक्कड़
  • दुनिया में भारत का नाम रौशन करने वाले खिलाड़ी एक एफआईआर दर्ज कराने के लिए सड़क पर आंदोलन करने को मजबूर हैं- प्रियंका कक्कड़
  • एक तरफ प्रधानमंत्री ‘बेटी पढ़ाओ-बेटी बचाओ’ का नारा देते हैं और दूसरी तरफ भाजपा के मंच पर सारे बलात्कारी और अपराधी पाए जाते हैं- प्रियंका कक्कड़

आम आदमी पार्टी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से जंतर मंतर पर आंदोलनरत खिलाड़ियों को न्याय दिलाने की मांग की है। ‘‘आप’’ की मुख्य प्रवक्ता प्रियंका कक्कड़ ने कहा कि प्रधानमंत्री धरना दे रही महिला खिलाड़ियों के ‘मन की बात’ भी सुनें और भारतीय कुश्ती महासंघ के अध्यक्ष और भाजपा सांसद बृजभूषण सिंह के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने के साथ उनसे इस्तीफा लें। ये खिलाड़ी कई दिनों से एक एफआईआर दर्ज कराने की मंाग को लेकर आंदोलन कर रहे हैं और अब प्रधानमंत्री पर से इनका भरोसा खत्म हो रहा है। खिलाड़ियों का कहना है कि बृजभूषण सिंह की गिरफ्तारी तक वे अपना आंदोलन जारी रखेंगे। आम आदमी पार्टी प्रधानमंत्री से अपील करती है कि वो बलात्कारियों और यौन शोषण करने वाले अपराधियों के आगे ढाल बन कर खड़ा होना बंद करें और खिलाड़ियों को न्याय दिलाएं।

आम आदमी पार्टी की मुख्य प्रवक्ता प्रियंका कक्कड़ ने शुक्रवार को पार्टी मुख्यालय में प्रेस वार्ता कर कहा कि कुछ समय पहले एक वीडियो वायरल हुई थी। इस वीडियो में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी महिला पलवान विनेश फोगाट को आश्वासन दे रहे थे कि वे निराश न हों और परिवार का हिस्सा बता रहे थे। प्रधानमंत्री कह रहे थे कि वे उनको निराश नहीं देख सकते हैं। आज बहुत ही शर्म की बात है कि देश की जिन बेटियों ने पूरी दुनिया में भारत का नाम रौशन किया, उनको इतना लंबा धरना देना पड़ रहा है, ताकि उनकी शिकायत पर भारतीय कुश्ती महासंघ के अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह के खिलाफ एफआईआर दर्ज हो सके। यह देश के लिए बहुत ही शर्म की बात है कि ऐसे प्रसिद्ध लोगों को भी अपनी सुनवाई के लिए सड़क पर इतने दिनों तक धरना देना पड़ता है। यह हमारे देश की चरमराई हुई कानून व्यवस्था को दर्शाता है।

‘‘आप’’ की मुख्य प्रवक्ता प्रियंका कक्कड़ ने कहा कि प्रधानमंत्री अक्सर कहते हैं कि बेटी पढ़ाओ, बेटी बचाओ। लेकिन हमने बार-बार ये भी देखा कि भाजपा के मंच पर ही सारे बलात्कारी और अपराधी पाए जाते हैं। प्रधानमंत्री से देश जानना चाहता है कि आखिर क्यों वे ऐसे अपराधियों के आगे ढाल बन कर खड़े हो जाते हैं। भारतीय कुश्ती महासंघ के अध्यक्ष बृजभूषण सिंह को अभी तक पद पर रखा गया है और उनसे इस्तीफा क्यों नहीं लिया जा रहा है? प्रधानमंत्री देश की महिलाओं, छात्रों, किसानों, टीचरों समेत किसी की उम्मीदों पर खरे नहीं उतर पा रहे हैं। कुलदीप सेंगर के मामले में भी यही हुआ था। हमने देखा कि कैसे पीड़िता ने सीएम योगी के घर के बाहर आत्महत्या करने की कोशिश की थी। उसके पिता ने पुलिस स्टेशन के अंदर अपनी जान गंवा दी, तब जाकर एफआईआर दर्ज हुई थी।

उन्होंने कहा कि यह बहुत ही दुखद बात है कि आज हमारी चैंपियन बेटियां फिर से सड़क पर हैं ताकि उनकी एफआईआर हो पाए। जंतर मंतर पर धरना दे रहे खिलाड़ियों को प्रधानमंत्री पर अब बिल्कुल भी भरोसा नहीं रह गया है। खिलाड़ियों ने कहा है कि जब तक कि आरोपी गिरफ्तार नहीं हो जाता है, तब तक उनका आंदोलन जारी रहेगा। प्रधानमंत्री से अनुरोध है कि वे दूसरों के मन की भी बात सुनें और देखें कि कैसे ये लोग परेशान हैं। आम आदमी पार्टी की मांग है कि रेसलिंग फेडरेसन ऑफ इंडिया के अध्यक्ष और भाजपा सांसद बृजभूषण शरण सिंह का इस्तीफा लें। प्रधानमंत्री बलात्कारियों और यौन शोषण करने वालों के आगे ढाल बनकर खड़ा होना बंद करें।

Print Friendly, PDF & Email

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *