थाना करावल नगर के हत्या के मामले में शामिल हत्यारे को अपराध शाखा द्वारा किया गया गिरफ्तार

Listen to this article

 पहले भी हत्या के अन्य मामले में आजीवन कारावास की सजा काट रहा है।
 प्रेमिका की हत्या के मामले में शामिल |

परिचय:
पूर्वी रेंज-2/अपराध शाखा की टीम ने हत्यारोपी विनीत पंवार, उम्र 26 वर्ष, निवासी ग्राम काकदीपुर, थाना रमाला, जिला बागपत, उत्तर प्रदेश को गिरफ्तार किया है| आरोपी थाना करावल नगर, दिल्ली के हत्याकांड में वांछित है।

घटना का संछिप्त विवरण :
दिनांक 12.04.23 को थाना करावल नगर में सूचना मिली थी कि बी-85, महालक्ष्मी विहार, शिव विहार, कृष्णा पब्लिक स्कूल, दिल्ली के पास एक महिला बेहोश पड़ी है, जिसे जीटीबी अस्पताल इलाज के लिए ले जाया गया, जहाँ पर डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया गया | इस सन्दर्भ में, प्राथमिकी संख्या 166/23, धारा -302/201 भारतीय दंड संहिता, थाना करावल नगर, दिल्ली में दर्ज की गई जिसकी विवेचना स्थानीय पुलिस द्वारा की जा रही थी |
विवेचना के दौरान मृतका की शिनाख्त माही@रोहिना नाज के रूप में हुई जिसकी हत्या और सबूत मिटाने के लिए शव को तेलीवाड़ा, फर्श बाज़ार से करावल नगर में फेकने मे उसका बॉयफ्रेंड विनीत पंवार, भाई मोहित, बहन पारुल @ चिंकी और पारुल @ चिंकी दोस्त इरफ़ान संलिप्त पाए गए । पारुल @ चिंकी, मोहित और इरफ़ान को स्थानीय पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया, जबकि मुख्य आरोपी विनीत पंवार गिरफ्तारी से बच रहा था।
टीम व संचालन :
सहायक उपनिरीक्षक सतेन्द्र सिंह को विनीत के लोनी गोल चक्कर, दिल्ली में होने की गुप्त सूचना मिली थी | उपरोक्त गुप्त सूचना पर कार्यवाही करते हुए सयुक्त आयुक्त एस.डी. मिश्रा व उपायुक्त सतीश कुमार द्वारा सहायक आयुक्त श्री राजकुमार साहा की देख-रेख में निरीक्षक आशीष दाहिमा के नेतृत्व में एक टीम का गठन किया गया| जिसमें सहायक उपनिरीक्षक सतेंद्र , हवलदार किशन , हवलदार पंकज और सिपाही मोनू पूनिया शामिल थे| उपरोक्त गुप्त सूचना के आधार पर टीम ने तुरंत कार्यवाही करते हुए वांछित हत्यारे विनीत पंवार को लोनी गोल चक्कर, दिल्ली से पकड़ लिया।
पूछताछ:
पूछताछ पर विनीत पँवार ने बताया कि 2017 में उसकी जान पहचान माही @ रोहिना नाज नाम की लड़की से हो गई जिसके साथ इसने साथ रहना शुरू कर दिया , इसी दौरान वह थाना रमाला, बागपत, उत्तर प्रदेश में हत्या के मामले में प्राथमिकी संख्या 61/17, धारा 302/34, भारतीय दंड संहिता, थाना रमाला में गिरफ्तार हुआ था I माही@रोहिना नाज ने उसकी बहन पारुल @ चिंकी के घर रहना शुरू कर दिया। उपरोक्त हत्या के मुकदमे में विनीत को उम्र कैद की सजा मिली जो नवंबर 2022 मे इलाहाबाद हाई कोर्ट से पैरोल पर था और अजय कुमार गर्ग इंजीनियरिंग कॉलेज, गाजियाबाद में चौकीदार की नौकरी कर रहा था। मार्च 2023 में उसकी बहन पारुल के पति की जलकर मृत्यु हो गई, जीजा विधीश चौधरी के कोई सगा भाई – बहन नहीं थे और उनके माता पिता की भी मृत्यु हो चुकी थी। इसलिए, पत्नी पारुल कानूनन रूप से विधीश की सम्पति की उत्तराधिकारी बन गयी| माही@रोहिना नाज विनीत पँवार पर शादी करने के लिए दवाब डाल रही थी और उसकी बहन पारुल @ चिंकी की जायदाद में अपना हिस्सा मांग रही थीं। जिसके कारण विनीत पँवार ने अपने भाई मोहित और बहन पारुल के साथ साजिश कर माही@रोहिना नाज की हत्या कर दी और फिर, शिव विहार में बहन पारुल के दोस्त की मदद से लाश को फेंक दिया |
आरोपी अपराधी का परिचय:
आरोपी विनीत, उम्र 26वर्ष, निवासी गांव-ककड़ीपुर, थाना-रमाला, जिला-बागपत, उत्तर प्रदेश से है व वर्तमान में वह गाजियाबाद में रहता है । उसने 12वीं तक पढ़ाई की है और शराब पीने का आदी है। प्राथमिकी संख्या 61/17, धारा 302/34 भारतीय दंड संहिता, थाना रमाला, उत्तर प्रदेश में इसे आजीवन कारावास की सजा हुई थी| नवंबर , 2022 से उक्त मामले मे वह पैरोल पर था |

आरोपी का आपराधिक इतिहास: –

  1. प्राथमिकी संख्या 61/17, धारा 302/34 भारतीय दंड संहिता, थाना रमाला, उत्तर प्रदेश |
Print Friendly, PDF & Email

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *